डॉ वर्गीस कुरियन स्मृति पशुधन कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र

(A UNIT OF BHARTIYA PASHUPALAN NIGAM LTD.)

डॉ. वर्गीस कुरियन स्मृति पशुधन विकास प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड के अधीनस्थ की गई है | गैर सरकारी क्षेत्र की पब्लिक कंपनी भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड की स्थापना डॉ. वर्गीस कुरियन के गौरवशाली इतिहास से प्रेरित हो कर उनकी स्मृति में पशुपालको को पशुपालन व्यवसाय में सही मार्गदर्शन एवं उनके अधिक आर्थिक लाभ हेतु की गई है | इसी कारण केंद्र का नाम डॉ. वर्गीस कुरियन की स्मृति में रखा गया है | भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड पशुपालकों व पशुओं के हित में कार्य कर रहा है|

अधिक जानकारी के लिए लॉग इन करे – www.bharatiyapashupalan.com

प्रशिक्षण प्रमाण पत्र कार्यक्रम शुल्क का विवरण एवं अवधि

पशुपालकों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के उद्देश्य को लेकर प्रदेश के किसानो/पशुपालको को अनौपचारिक शिक्षा के अंतर्गत प्रशिक्षण के माध्यम से नवीनतम तकनिकी जानकारी जैसे पशुपालन एवं पशु प्रबंधन जिसके अंतर्गत उन्नत पशु गृह निर्माण ,टीकाकरण ,पशुओ में रोग एवं रोगो की जानकारी तथा रोकथाम हेतु प्राथमिक घरेलु उपचार ,पशुधन उत्पादन एवं प्रबंधन,कृत्रिम गर्भाधान से नस्ल सुधर ,पशुपालन को लाभप्रद बनाने के नुस्खे ,पशुपालन में सहकारिता ,पशु बीमा ,पशु ऋण ,पशुपालन विभाग के अनुदानित योजनाओ की जानकारी उपलब्ध करवाना ,दुग्ध वृद्धि हेतु पशु उत्पाद विपणन ,डेयरी विकास एवं व्यवसाय प्रबंधन ,पशु आहार ,चारा उत्पादन ,चारा विकास एवं प्रबंधन इत्यादि के जरिये आत्मनिर्भर पशुपालक को तैयार कर देश में दुग्ध क्रांति को लाना निगम का उच्चतम उद्देश्य है !

न्यूज़ एंड इवेंट्स
रोजगार सूचना 2017
कार्यालय समय 10 AM to 5 PM रविवार अवकाश
हमारे प्रेरणा स्रोत के अन्य महत्वपूर्ण लिंक

 

हमें जानिए

डॉ. वर्गीस कुरियन स्मृति पशुधन विकास प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड के अधीनस्थ की गई है |

गैर सरकारी क्षेत्र में भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड की स्थापना डॉ. वर्गीस कुरियन के गौरवशाली इतिहास से प्रेरित हो कर उनकी स्मृति में पशुपालको को पशुपालन व्यवसाय में सही मार्गदर्शन एवं उनके अधिक आर्थिक लाभ हेतु की गई है | इसी कारण केंद्र का नाम डॉ. वर्गीस कुरियन की स्मृति में रखा गया है | भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड पशुपालकों व पशुओं के हित में कार्य कर रहा है|

गैर सरकारी क्षेत्र में भारतीय पशुपालन निगम लिमिटेड की स्थापना भारतीय पशुपालन विकास एवं अनुसन्धान संस्थान लिमिटेड के नाम से वर्ष 2009 में कि गई थी । जनवरी 2011 में भारत सरकार के द्वारा अनुमति प्राप्त कर इसे निगम के रूप में परिवर्तन कर दिया गया है । निगम का कार्य क्षेत्र सम्पूर्ण भारत वर्ष है । निगम का पंजीकरण भारत सरकार के कॉपोरेट कार्य मंत्रालय द्वारा अधिनियम 1956(1965का 1) कि धारा 23(1) के अनुसरण में निगमन सख्या U01407RJ2009PLC029581के द्वारा किया गया है इसका रजिस्टर्ड कार्यालय जयपुर में स्थित है ।

निगम कि स्थापना ” राष्ट्रीय पशुपालन उधयमिता विकास मिशन ” परियोजना का संचालन कर उसके अंतर्गत परम्परागत पशुपालन को व्यवसायिक रूप प्रदान करना प्रमुख उद्देश्य है

न्यूज़ एंड इवेंट्स
रोजगार सूचना 2017
कार्यालय समय 10 AM to 5 PM रविवार अवकाश
उद्देश्य
  1. देशी नस्ल के पशुधन का संरक्षण व संवर्धन |
  2. कृत्रिम गर्भाधान का प्रशिक्षण देकर पशुपालको को तैयार करना |
  3. प्रदेश के किसानो/पशुपालको को प्रशिक्षण के माध्यम से नवीनतम तकनिकी जानकारी जैसे पशुपालन एवं पशु प्रबंधन जिसके अंतर्गत उन्नत पशु गृह निर्माण ,टीकाकरण ,पशुओ में रोग एवं रोगो की जानकारी तथा रोकथाम हेतु प्राथमिक घरेलु उपचार ,पशुधन उत्पादन एवं प्रबंधन,कृत्रिम गर्भाधान से नस्ल सुधर ,पशुपालन को लाभप्रद बनाने के नुस्खे ,पशुपालन में सहकारिता ,पशु बीमा ,पशु ऋण ,पशुपालन विभाग के अनुदानित योजनाओ की जानकारी उपलब्ध करवाना ,दुग्ध वृद्धि हेतु पशु उत्पाद विपणन ,डेयरी विकास एवं व्यवसाय प्रबंधन ,पशु आहार ,चारा उत्पादन ,चारा विकास एवं प्रबंधन इत्यादि |
  4. प्रदेश में व्याप्त ग्रामीण स्तरीय बेरोज़गारी को दूर करने में सहयोग करना |
  5. शिक्षित ग्रामीण नवयुवको को पशुपालन के प्रति जो अरुचि हो रही है उसे दूर कर पशुपालन को व्यवसायिक रूप प्रदान करते हुए इसके साथ जोड़ना |
  6. उन्नत नस्ल के पशु से प्राप्त उत्पादों से पशुपालक को आर्थिक रूप से स्वावलम्बी बनाना |
न्यूज़ एंड इवेंट्स
रोजगार सूचना 2017
कार्यालय समय 10 AM to 5 PM रविवार अवकाश
प्रमाण पत्र
राष्ट्रीय डेरी विकास बोर्ड प्रमाण पत्र
भारतीय पशु चिकित्सा परिषद प्रमाण पत्र
न्यूज़ एंड इवेंट्स

रोजगार सूचना 2017

कार्यालय समय 10 AM to 5 PM रविवार अवकाश

निगम द्वारा निम्न सेवाएं उपलब्ध कराई जाती है|

1. डॉ वर्गीस कुरियन स्मृति पशुधन विकास प्रशिक्षण केंद्र के माध्यम से सशुल्क प्रशिक्षण करवा कर पशुपालन कार्यकर्ता (AHW) तैयार करना ।

2. प्रशिक्षण प्राप्त पशुपालन कार्यकर्ता (AHW) के माध्यम से निगम से पंजीकृत पशुपालको को निशुल्क: सेवाएं प्रदान करना ।

3. प्रदेश की ग्राम पंचायतो में पशु सेवा एवं कृत्रिम गर्भाधान केंद्र खोल कर पशुपालन कार्यकर्ता (AHW) को पद स्थापित करना |

4. पशुपालक ग्रामीणों को स्थानीय स्तर पर आधुनिक पशुचिकित्सा सुविधाएँ, कृत्रिम गर्भाधान, केटल फीड सप्लीमेंट, दवाइयां, टीकाकरण आदि सुविधाएँ इस सेवा केंद्र के माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएगी ।

5. इन सेवा केंद्र के माध्यम से पशुपालक ग्रामीणों को स्थानीय स्तर पर आधुनिक तकनीक के द्वारा प्रचार प्रसार सरकार की योजनाओ और परयोजनाओ की जानकारी करवाई जाएगी!

न्यूज़ एंड इवेंट्स
रोजगार सूचना 2017
कार्यालय समय 10 AM to 5 PM रविवार अवकाश

रजिस्टर्ड कार्यालय
एसी – 4 , गायत्री मार्ग, जिला परिषद् के सामने ,
बनीपार्क, जयपुर (राजस्थान) 302016

HELP LINE NO.:- +91-8302951701, +91-8302751138
WEB bharatiyapashupalan.com
E-Mail bhartiyapashupalan@gmail.com
न्यूज़ एंड इवेंट्स
रोजगार सूचना 2017
कार्यालय समय 10 AM to 5 PM रविवार अवकाश